madhav saree sangam kotputli

माधव साड़ी संगम पर 80 रुपये से शुरू होती है साड़ियाँ, Sarees start at Rs 80 at Madhav Saree Sangam

साड़ी महिलाओं की सुन्दरता में चार चाँद लगाने के साथ-साथ उन्हें भारतीय होने का अहसास कराती है. कपड़ों में साड़ी महिलाओं की पहली पसंद होती है जिसकी वजह से इन्हें साड़ियों के एक ऐसे शोरूम की तलाश रहती हैं जहाँ पर वाजिब कीमत पर सभी प्रकार की साड़ियाँ उपलब्ध हो.

आज हम आपको कोटपुतली शहर के हृदय में स्थित साड़ियों के एक ऐसे ही शोरूम पर ले चलते हैं जहाँ पर उचित दरों पर साड़ियों की विशाल रेंज उपलब्ध है.

कोटपुतली में नगरपालिका के पास में एकदम प्राइम लोकेशन पर स्थित है यह प्रसिद्ध शोरूम जिसे माधव साड़ी संगम के नाम से जाना जाता है.

Madhav Saree Sangam has Sarees of all varieties

यह वातानुकूलित शोरूम लगभग चार हजार वर्ग फीट क्षेत्र में फैला हुआ है जहाँ पर कस्टमर्स के लिए पार्किंग के साथ वाशरूम फैसिलिटी भी उपलब्ध है. ग्राउंड फ्लोर और बेसमेंट में अलग-अलग सेक्शन में अनेक वैरायटी में साड़ियों की भरमार है.

वैसे तो इस शोरूम की विशेषता साड़ियाँ ही है लेकिन यहाँ पर साड़ियों के साथ-साथ Suiting Shirting, Special Khadi, Ladies Suits, Bridal Lahanga, Peela Chunari, Blankets, Shawl आदि भी उपयुक्त कीमत पर उपलब्ध हैं.

अगर साड़ियों की वैरायटी की बात करें तो यहाँ पर Bridal, Banarasi, Silk, Cotton, Calcutta Handwork, Pure Georgette, Pure Ciffone, Fancy, Printed, Designer, Bandhej आदि सभी प्रकार की साड़ियाँ उपलब्ध हैं.

सभी कलेक्शन लेटेस्ट एवं अनूठे होते हैं. फिक्स्ड रेट यहाँ की खासियत है. अगर कीमत की बात करें तो साड़ियों की शुरुआत मात्र अस्सी रुपए की कीमत से ही हो जाती है. 

शोरूम के ओनर मैथिली शरण बंसल हैं जो व्यापार के अतिरिक्त राजनीति में दखल रखने के साथ-साथ समाजसेवा को भी अपने दायित्व की तरह अंजाम देते हैं.

इनके अनुसार यह शोरूम विगत एक सदी से क्षेत्र के निवासियों को उपयुक्त दरों पर विभिन्न प्रकार के परिधान उपलब्ध करवा रहा है जिनमे साड़ियाँ प्रमुख है.

मैथिली शरण के साथ-साथ इनके पुत्र अरविन्द शरण बंसल भी अपने पिता की तरह व्यापार के साथ-साथ समाजसेवा के कार्य को बखूबी अंजाम दे रहे हैं.

Click to get Contact Number of Madhav Saree Sangam

अरविन्द फार्मेसी में वर्ष 1998 के बैचलर डिग्री धारी है. इनके सामने उस समय मेडिसिन के फील्ड में काफी अवसर थे लेकिन इन्होंने अपने पिता की तरह कोटपुतली में रहकर अपना पुश्तेनी व्यापार और समाजसेवा दोनों एकसाथ करने की ठानी.

अरविन्द पिछले दो दशकों से व्यापार और समाजसेवा दोनों ही एक साथ कर रहे हैं. इनका एक ही ध्येय है कस्टमर की पूर्ण संतुष्टि और उनके साथ आत्मिक सम्बन्ध.

इसी वजह से कई लोगों का स्टाफ होने के बावजूद ये अक्सर कस्टमर्स को साड़ियाँ पसंद करवाते दिख जाते हैं.